भारत में पहली बार:मरीज से 32 किमी दूर बैठकर रोबोट के जरिए की हार्ट सर्जरी

अहमदाबाद ( nainilive.com)- एक डॉक्टर ने मरीज से 32 किलोमीटर दूर बैठकर रोबोट के जरिए की हार्ट सर्जरी की है. यह कमाल गुजरात के गांधीनगर के डॉक्टर ने किया है. मसलन डॉक्टर तेजस पटेल और उनकी टीम ने 32 किलोमीटर दूर अहमदाबाद स्थित अपने अपेक्स हार्ट इंस्टिट्यूट की कैथ लैब में रोबोट की सहायता से हार्ट सर्जरी की.

आपको बता दें कि गांधीनगर अक्षरधाम मंदिर के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है. साल 2002 में यहां आतंकवादी हमला भी हुआ था. आज इसी स्थान से जान बचाने का एक नया अभियान शुरू हुआ. बुधवार को अक्षरधाम में बैठकर गुजरात के प्रसिद्ध कॉर्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर तेजस पटेल और उनकी टीम ने 32 किलोमीटर दूर अहमदाबाद स्थित अपने अपेक्स हार्ट इंस्टिट्यूट की कैथ लैब में रोबोट की सहायता से हार्ट सर्जरी की.

अपेक्स हार्ट इंस्टिट्यूट के चीफ कॉर्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर तेजस पटेल और उनकी टीम ने आज कुल 5 मरीज़ों की सर्जरी की. इन मरीज़ों की पहचान को पूरी तरह गुप्त रखा गया. अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि एक अधेड़ उम्र की महिला को दिल का दौरा पड़ा था और इलाज के दौरान वह रोबोटिक सर्जरी के इस प्रयोग के लिए राज़ी हो गई.

भारत में यह पहला मौका है जबकि रोबोट की सहायता से इस तरह हॉस्पिटल से दूर रोबोटिक सर्जरी की गई. इस पूरे अभियान का उद्देश्य यह है कि दुनिया के किसी भी कोने में इंटरनेट से रोबोट ऑपरेट करके सर्जरी की जा सकती है.

डॉक्टर पटेल ने बताया, इस तकनीक से हमने 32 किलोमीटर दूर रहकर सर्जरी की लेकिन जल्दी ही हम मरीज़ों का इलाज 300 या 3000 किलोमीटर दूर रहकर भी कर सकेंगे. इस तकनीक से रिमोट एरिया कवर होगा और हॉस्पिटल पहुंचने का समय बचेगा. हम इस नई तकनीक की मदद से आने वाले दिनों में भी इसी तरह की सर्जरी करते रहेंगे.

करीब दो साल पहले अपेक्स हार्ट इंस्टिट्यूट ले लिए डॉक्टर तेजस पटेल ने यह रोबोट सिस्टम लगभग 9.50 करोड़ रुपए की लागत से खरीदा था. तब से इस रोबोट की सहायता से कई सर्जरी की गई लेकिन आज कैथलैब से 32 किलोमीटर दूर रहकर रोबोट को निर्देश देकर सर्जरी को अंजाम दिया गया, जो मेडिकल साइंस में एक बड़ी उपलब्धि है. आपको बता दें जब डॉक्टर तेजस अपने इस अभियान को अंजाम दे रहे थे तब गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी सहित कई जाने-माने लोग अक्षरधाम मंदिर में मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*