सल्ट विधानसभा के लिए भाजपा से महेश जीना , तो कांग्रेस से गंगा पंचोली को मिला टिकट

सल्ट विधानसभा के लिए भाजपा से महेश जीना , तो कांग्रेस से गंगा पंचोली को मिला टिकट

सल्ट विधानसभा के लिए भाजपा से महेश जीना , तो कांग्रेस से गंगा पंचोली को मिला टिकट

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com )- सल्ट विधानसभा के होने वाले उपचुनाव के लिए भाजपा और कांग्रेस ने अपने -अपने उम्मीदवार तय कर दिए हैं। कल नामांकन की आखरी तारीख होने के चलते आज उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी गयी है. भाजपा ने जहाँ पूर्व विधायक स्व.सुरेंद्र जीना के भाई महेश जीना पर दांव खेला है, वहीँ विपक्षी कांग्रेस ने पुनः गंगा पंचोली पर दांव खेल सबको चौंका दिया है। गंगा पंचोली 2017 के विधानसभा चुनावों में सुरेंद्र जीना से 2904 मतों के अंतर् से हार गयी थीं। भाजपा ने एक ओर जहाँ सहानुभूति को आधार बनाते हुए अपने उम्मीदवार की घोषणा की है , वहीँ कांग्रेस में गंगा पंचोली के उम्मीदवारी की घोषणा ने हरीश रावत की पार्टी में अहमियत को दर्शा दिया है. जानकार इसे पार्टी में हरीश रावत के निर्णय को प्राथमिकता दिए जाने से जोड़कर देख रहे हैं। ऐसा इसलिए भी है , क्योंकि वर्ष 2002 से वर्ष 2012 तक इस सीट को कभी हरीश रावत के मुख्य सिपहसालार रहे रणजीत रावत ने प्रतिनिधित्व किया था. पिछले चुनावों से पहले हुए मन मुटावों के बाद समीकरण बदल गए. कांग्रेस ने जहाँ गंगा पंचोली पर दांव खेल यह जता दिया की हरीश रावत ही गुरु हैं , वहीँ रणजीत रावत के लिए लॉबी कर रहे गुट को भी तगड़ा झटका लगा है. अब देखना यह है कि चुनाव का निर्णय का ऊंट किस ओर करवट लेता है।

सल्ट विधानसभा चुनाव न सिर्फ कांग्रेस एवं हरीश रावत की वर्ष 2022 की दिशा का निर्णायक होगा , बल्कि सत्तारूढ़ भाजपा के लिए भी 2022 का स्पष्ट संकेत रहेगा।

यह भी पढ़ें 👉  चार धाम यात्रा को नैनीताल हाईकोर्ट ने दी मंजूरी, कोरोना गाइडलाइन का करना होगा पालन

जाने एसिडिटी के कारण एवं निवारण – अम्लपित्त से कैसे पाएं छुटकारा I HYPER ACIDITY I Ayurvedic treatment of Hyper Acidity I https://youtu.be/hOCHERk6_RM

देखे अनिद्रा के कारण एवं निवारण – https://youtu.be/MsrtCnyUF-k नींद न आना INSOMNIA भी है एक बीमारी I INSOMNIA I SLEEP DEPRIVATION I जाने कारण एवं इलाज I

यह भी पढ़ें 👉  राजधानी: पटाखा व्यापारियों को लगा झटका, फिर लगी दीवाली के मौके पर पटाखों पर रोक

जाने दही के सही सेवन के तरीके – दही है अमृत के समान। गलत तरीके से खाने पर विष के समान। जाने कब, कैसे, किसके साथ खाएं। Dahi ke fayde https://www.youtube.com/watch?v=U7cpcT3Igdo

यह भी पढ़ें 👉  AAP के प्रदेश अध्यक्ष कलेर ने दिया इस्तीफा, कहा, "अब अपनी ही विधानसभा में काम करूंगा"
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments