नैनीताल: हाईकोर्ट का आदेश घर-घर जाकर तलाशी जाएं टीकाकरण की संभावनाएं

Ad
Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com ) – उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार से कहा है कि दूरस्थ पहाडी क्षेत्रों में घर-घर जाकर कोविड 19 टीकाकरण करने की संभावनाएं तलाशी जाएं। राज्य सरकार के कोविड की स्थिति से निपटने के संबंध में दायर कई याचिकाओं की बुधवार को सुनवाई के दौरान मुख्य न्यायाधीश आरएस चौहान तथा न्यायमूर्ति आलोक वर्मा की एक खंडपीठ ने पूछा कि क्या पहचान पत्र नहीं होने के कारण टीकाकरण से वंचित हो रहे लोगों के लिए सामाजिक कल्याण विभाग की मदद से एक जिला स्तरीय कार्य बल का गठन किया जा सकता है ।

यह भी पढ़ें 👉  नदी को जानो’ प्रतियोगिता के विजेताओं को एक लाख तक का पुरस्कार देगी आरएफआर फाउंडेशन

अदालत ने कहा कि दूरस्थ पहाडी क्षेत्रों में लोगों तक पहुंचने के लिए प्राथमिकता के आधार पर एक प्रणाली के गठन की संभावनाएं तलाशी जाएं। यही नहीं, अदालत ने राज्य सरकार को घर-घर जाकर सर्वेंक्षण कराने के लिए आशा कार्यकत्रियों, होमगार्डस और नर्सों का एक पैनल बनाने का सुझाव दिया जिससे ऐसे इलाकों में दूर-दूर रहने वाली जनसंख्या का टीकाकरण हो सके ।

Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments