उत्तराखंड की इस बेटी ने माउंट एलब्रुस पर लहराया तिरंगा, जानें कैसी रहीं यात्रा

Ad
Share this! (ख़बर साझा करें)

Uttarakhand न्यूज डेस्क (nainilive.com)- पहाड़ों की बेटियां भी पर्वतारोहण क्षेत्र में लगातार अपने नाम का परचम लहराती हुई नजर आ रही। दरअसल उत्तरकाशी की रहने वाली अनामिका बिष्ट ने यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोंटी एलब्रुस पर फतह हासिल कर वहां सफल आरोहण किया। अनामिका के साथ इस दौरान टीम के सदस्य लेफ्टिनेंट कर्नल रोहल और बेंगलूरु की गायत्री भी मौजूद थी। वही माउंट एलब्रुस का सफल आरोहण करने वाली अनामिका बिष्ट उत्तरकाशी की पहली महिला पर्वतारोही बन गई है।

आपको बता दे कि इस दौरान अनामिका ने कहा कि बीते मंगलवार सुबह 10 बजें युरोप के समयानुसार, उन्होंने अपनी टीम के सदस्यों के साथ यूरोप की सबसे ऊंची चोटी एलब्रुस,5642 मीटर का सफल आरोहण किया। इस दौरान उन्हें माइनस 20 डिग्री का तापमान वहां पर मिला। इसके साथ ही उन्होनें बताया कि 15 अगस्त को स्वतंत्रा दिवस पर उत्तरकाशी से यमुनोत्री विधायक केदार सिंह रावत और जिला प्रशासन सहित नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के अधिकारियों में उन्हें इस अभियान के लिए प्लैग आफ किया था और मास्को से 19 अगस्त को उन्होंने अपने अभियान की शुरुआत 7 सदस्य टीम के साथ की थी। जिसकी वह लीडर थी। वही एलब्रुस में आरोहण करने से अनामिका के परिजनों सहित उत्तरकाशी के लोगों उन पर गर्व महसूस कर रहे है।

Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments