विद्या भारती के पूर्व छात्रों खोजने में जुटी पूर्व छात्र परिषद

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , हल्द्वानी ( nainilive.com )- विद्या भारती पूर्व छात्र परिषद उत्तराखंड के प्रदेश संयोजक गौरव जोशी ने रविवार को प्रेस नोट जारी करते हुए जानकारी दी है कि सरस्वती शिशु मंदिर एवं सरस्वती विद्या मंदिरों में पढ़ाई कर चुके छात्र-छात्राओं को एक मंच पर लाने का अभियान उत्तराखंड में भी शुरू हो चुका है। उन्होंने बताया कि विद्या भारती पूर्व छात्र परिषद विश्व में पूर्व छात्रों का सबसे बड़ा नेटवर्क है और अब तक साढ़े 5 लाख से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं। ‌

यह भी पढ़ें 👉  सेना जीडी भर्ती के लिए युवाओं में दिखा जोश

गौरव ने बताया कि पूर्व छात्रों को जोड़ने का सदस्यता महाअभियान पूरे देश में चल रहा है। इसी क्रम में उत्तराखंड प्रांत के सभी शिशु मंदिर एवं विद्या मंदिरों से पढ़ाई कर चुके छात्र-छात्राओं का पंजीकरण परिषद के नेशनल पोर्टल के माध्यम से किया जा रहा है। सदस्यता नि:शुल्क है और वेबसाइट www.vidyabharatialumni.org/alumni/register पर जाकर कोई पूर्व विद्यार्थी अपना पंजीकरण करा सकता है। बताया कि पंजीकरण में किसी तरह की समस्या होने पर 8884838000 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

विद्या भारती के प्रांत संगठन मंत्री भुवन एवं प्रांत निरीक्षक डॉ. विजय पाल का कहना है कि विद्या भारती के संस्थान संस्कारवान शिक्षा देने के लिए जाने जाते हैं। कहा कि विद्या भारती के स्कूलों से पढ़े विद्यार्थी देश-विदेश में उच्चस्थ पदों पर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। उन्होंने सभी पूर्व विद्यार्थियों से अपील की है कि अपना पंजीकरण अवश्य करवाएं। कहा कि पूर्व छात्र परिषद से जुड़ने के बाद छात्र-छात्राएं लगातार संपर्क में रहेंगे और वर्तमान विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  डीएम गर्ब्याल ने किया लालकुआं तहसील में एफएलसी कार्य का निरीक्षण
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments