अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कूड़े पर योग और आसन

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कूड़े पर योग और आसन

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कूड़े पर योग और आसन

Share this! (ख़बर साझा करें)

दुनिया कोरोना वायरस से लड़ रही है और हम कोरोना वायरस के साथ-साथ प्रदूषण के वायरस से भी लड़ रहे हैं

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com )- अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर हल्द्वानी के नागरिकों ने अपने इंदिरा नगर,बनभुलपुरा स्थित घरों के सामने ट्रंचिग ग्राउंड में प्रदूषण के बीच बैठकर योग किया और बेहतर स्वास्थ्य हासिल करने की कोशिश की गई और कई आसन किए कई प्राणायाम किए लेकिन ज़हरीली गैसों और बदबूदार वातावरण कोई भी आसन बेहतरीन ऑक्सीजन में नहीं बदल पाया,योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार से लेकर उत्तराखंड सरकार प्रयासरत है लेकिन हल्द्वानी के नागरिक स्वच्छ वातावरण को तरस रहे हैं जो कि हमारा मूल अधिकार है और प्रधान मंत्री ने नारा दिया है स्वच्छ भारत मिशन।

यह भी पढ़ें 👉  आज से दाखिले के लिए दस्तावेजों का होगा सत्यापन, एमबीपीजी में स्नातक के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू

सामाजिक कार्यकर्ता सरताज आलम ने बताया कि क्षेत्र के नागरिक लम्बे समय से इस ट्रंचिग ग्राउंड का विरोध कर रहे हैं कोरोना वायरस की महामारी के बावजूद नगर निगम और राज्य सरकार हाईकोर्ट के आदेश की अवहेलना कर रहे हैं 9 महीने में कूड़ा ट्रीटमेंट प्लांट उपयुक्त स्थान पर बनाने का आदेश 10 और 18 जुलाई 2018 को किया गया हाईकोर्ट ने आदेश दिया कि अबादी और नदी के पास कूड़े से प्रदूषण न किया जाए इसके बावजूद निगम और सरकार तानाशाही कर नागरिकों की जान से खेल रहे हैं दिन रात कूड़ा जलाया जाता है और नागरिकों को बीमार कर मारा जा रहा है हल्द्वानी में जितने लोग कोरोना से मरे हैं उससे कहीं ज़्यादा अवैध ट्रेंचिंग ग्राउंड के प्रदूषण से मर चुके हैं

यह भी पढ़ें 👉  अंन्तराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस के अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा वासुदेव लॉ कालेज के छात्रों के साथ किया गया बेविनार आयोजित

वहीँ इंदिरा नगर जनविकास संरक्षक तौफीक अहमद ने कहा कि लम्बे समय से चलाए जा रहे इस आंदोलन,नियमो और हाईकोर्ट के आदेशों को दरकिनार कर सिस्टम घनी अबादी के स्वास्थ से खिलवाड़ कर रहा है कोरोना वायरस के साथ-साथ प्रदूषण नाम का वायरस भी यहां के लोगों की जान ले रहा है हमारी मांग है कि इस कूड़े को अन्यंत्र आबादी और गोला नदी से दूर शिफ्ट किया जाए हाईकोर्ट के आदेशों के क्रम में उपयुक्त अन्य स्थान पर कूड़ा ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जाए और लोगो को स्वच्छ साँस लेने के अधिकार से वंचित न किया जाए।
बताते चले कि हरे भरे जंगल और मैदान को निगम और सरकार ने लाखों टन कूड़े से पाट दिया है कुछ सालों पहले तक उक्त स्थान पर स्थानीय खेल हुआ करते थे और लोग योगाभ्यास किया करते थे लेकिन आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर उस 15 हेक्टेयर क्षेत्र में लाखों टन कूड़ा है जिस पर बैठकर नागरिक योग करने के लिए मजबूर है।

यह भी पढ़ें 👉  चीता मोबाइल की तत्परता फिर आयी काम , दिल्ली से 4 दिन पहले प्रेमी के साथ गायब महिला ढूंढी मात्र 20 मिनट में

इस दौरान इंदिरा नगर जनविकास समिति के अध्यक्ष इरशाद अंसारी, संरक्षक तौफीक अहमद,सामाजिक कार्यकर्ता सरताज आलम,आसिफ अंसारी,नफीस अहमद खान, सईद अहमद,ज़हीर अन्सारी, हबीबुर्रहमान,जावेद अली, अनवर अली,मौजूद थे।

नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments