अजब यूनिवर्सिटी के गज़ब हाल : परीक्षा को लेकर एक ही दिन में तीन आदेश , अब यह है नया आदेश

Ad
Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com )- कुमाऊं यूनिवर्सिटी की 01 सितम्बर से आयोजित होने वाली परीक्षाओं को लेकर पूरे दिन भ्रम की स्थिति बनी रही। इसे अजब यूनिवर्सिटी के गज़ब हाल ही कहा जाएगा , जब परीक्षा आयोजित करने को लेकर एक दिन में ही तीन आदेश निकालने पड़े। पहले आदेश में परीक्षाओं के 1 माह के लिए स्थगित होने की सूचना दी गयी जिसमे कहा गया की छात्र संगठनों के अनुरोध पर परीक्षाओं को 1 महीने के लिए स्थगित किया जाता है। इसके पीछे आधार कई महाविद्यालयों में पाठ्यक्रम पूरा नहीं होने की बात कही गयी। इसके थोड़ी देर बाद ही इस आदेश को निरस्त किये जाने को लेकर एक नया आदेश जारी कर दिया जाता है , जिसमे परीक्षाओं के पूर्व में जारी कार्यक्रम के अनुसार ही होने की बात कही जाती है। इन सब के बीच देर शाम को परीक्षा नियंत्रक के द्वारा पुनः संशोधित आदेश जारी कर परीक्षाओं को अगले 1 महीने के लिए निरस्त करने का आदेश जारी कर दिया जाता है। इस आदेश के उपरान्त पूरे दिन भर छात्रों के मध्य उत्पन्न भ्रम की स्थिति तो समाप्त हो गयी , लेकिन विश्वविद्यालय की कार्यप्रणाली पर जरूर प्रश्नचिन्ह लगते हैं , की कैसे एक दिन के भीतर परीक्षाओं के स्थगित होने या ना होने को लेकर उनके निर्णय बदलते रहते हैं.

यह भी पढ़ें 👉  रक्षा एवं पर्यटन केन्द्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट ने रविवार को जनपद के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का किया दौरा

इस पूरे मामले में जहाँ विश्वविद्यालय प्रशासन छात्रों के अनुरोध की बात कह कर अपना पल्ला झाड़ने की कोशिश कर रहा है , वहीँ छात्र नेता इसे विश्वविद्यालय की परीक्षाओं को लेकर तैयारियां पूर्ण नहीं होने की बात कह रहे हैं। वरिष्ठ छात्र नेता एवं पूर्व में विद्यार्थी परिषद् के पदाधिकारी रहे हरीश सिंह राणा ने इसे सीधे तौर पर विश्वविद्यालय की नाकामी कही। उन्होंने कहा की एक तरफ जहां विश्वविद्यालय की परीक्षाओं को लेकर तैयारियां नहीं हैं वहां इन नाकामियों को छिपाने के लिए सीधे छात्र नेताओं को आगे कर दिया जा रहा है। इसके साथ ही एक ही दिन में तीन -तीन आदेश जारी करना अपने आप में हास्यास्पद स्थिति पैदा करता है। कई महाविद्यालयों में अभी पाठ्यक्रम ही पूर्ण नहीं हुआ , और बिना इसकी जानकारी के विश्वविद्यालय की परीक्षाएं आयोजित हो जाती हैं , ऐसे में यह सीधे तौर पर छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ है।

यह भी पढ़ें 👉  केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट पर गुस्साएं ग्रामीण, सुनाई खरी खोटी... देखें वीडियो

वहीँ इस विषय पर छात्रों के एक अन्य गुट ने विश्वविद्यालय परिसर के बाहर धरना शुरू कर दिया है। इस गुट के छात्रों का कहना है की जिन छात्रों को अपने आगामी प्रवेश के लिए अन्य विश्वविद्यालयों अथवा किसी प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठना है या प्रवेश लेना हैं , वह इन परिस्थितियों में कैसे प्रवेश ले पाएंगे। बीए 6 सेम के छात्र अक्षत कौशिक ने सोशल मीडिया में जारी अपने ऑडियो मैसेज के माध्यम से उन सभी छात्रों से अपील करते हुए कहा है की जो भी छात्र चाहते हैं की कल से परीक्षाएं प्रारम्भ हो , वह इन छात्रों के समर्थन में विश्वविद्यालय परिसर में पहुंचे।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: पूर्व सैनिकों ने धूमधाम से मनाया कुमाऊं दिवस

Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments