दुर्घटना : एक ही स्थान पर तीसरा हादसा, खाई में गिरी कार , दम्पति की दर्दनाक मौत

Share this! (ख़बर साझा करें)

-सिस्टम की लापरवाही दे रही हादसों को न्यौता
-दीपक कुमार भोलू ने दिखाई इंसानियत तत्काल रेस्क्यू टीम के साथ मदद करने उतरे गहरी खाई मे

बबलू चंद्रा , नैनीताल ( nainilive.com )- शुक्रवार को नानकमत्ता से नैनीताल घूमने आ रहे पर्यटको की कार ह्युंडई वेन्यू UK06BA 4993 नैनीताल-हल्द्वानी मार्ग मे नैनागांव वल्दियाखान के पास हनुमान मंदिर के समीप अनियंत्रित होकर गहरी खाई मे जा गिरी। जिससे कार सवार पति-पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई। पास मिले प्रपत्रों के आधार पर मृतकों की पहचान मो. इजहार खान (32) ग्राम ड्योढ़ी नानकमत्ता ऊधमसिंह नगर व नॉरीन खान (26) विरातगंज बरेली के रूप मे हुई है। जबकि पुलिस के अनुसार मृतक पति-पत्नी थे। यहाँ बता दें कि जिस स्थान से वाहन अनियंत्रित होकर खाई मे गिरा है ठीक उसी स्थान से पूर्व मे भी दो अन्य हादसों मे वाहनो के खाई मे गिरने से जनहानि हो चुकी है। जबकि तीनों दुर्घटनाग्रस्त वाहन एक ही जगह कुछ दूरी पड़े हैं। एक ही स्थान से तीसरा हादसा होने का मामला क्षेत्र मे एक दुःखद चर्चा का विषय बना रहा।

यह भी पढ़ें 👉  परियोजना ट्रैक पर, पहाड़ पर जल्द दौड़ेगी ट्रेन, मुख्यमंत्री ने किया ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना का स्थलीय निरीक्षण


वाहन दुर्घटना की सूचना मिलते ही अपने वाहन से नैनीताल से हल्द्वानी को जा रहे पूर्व सभासद दीपक कुमार भोलू भी साथी गौरव दत्त व ग्रामीणों पुलिस बल साथ रेस्क्यू करने गहरी खाई मे उतर कर कर मानवता की मिशाल पेश की। जबकि मृतको को रेस्क्यू कर आडूखान गाँव होते हुए पटवाटाँगड से सड़क तक लाया जा सका। पुलिस बल मे तल्लीताल पुलिस बल एसओ विजय मेहता, एसआई दीपक बिष्ट , हेड कांस्टेबल शिवराज सिंह राणा व एडीआर की टीम के साथ आसपास के ग्रामीण थे।

यह भी पढ़ें 👉  साहित्य के क्षेत्र में डॉ. भुवन मठपाल को बुलंदी जज़्बात-ए-क़लम साहित्यिक संस्था की ओर से काव्यश्री सम्मान से किया सम्मानित


दुर्घटनाओ के बाद सड़क किनारे क्षतिग्रस्त पैराफिट की मरम्मत न होनानए सुरक्षा इंतजाम न हो पाने से एक ही स्थान से दुर्घटनाओं का होना सिस्टम की घोर लापरवाही के संकेत देता है। जबकि ज्योलिकोट से नैनीताल के बीच लगातार हो रही दुर्घटनाओं व सड़क किनारे बने सुरक्षा पैराफिटो के जीर्णशीर्ण हालात खुद-ब-खुद गवाही देते है कि यातायात सुरक्षा के ढोल पिटने वाले विभाग राहगीरो की सुरक्षा के प्रति कितने सजग हैं। क्योंकि अधिकतर पैराफिटो को तोड़ कर ईंटो का चोरी होना व सुरक्षा पोलो को उखाड़ कर सड़को मे बनी दुकानों के बाहर लगे होने के साथ ही विभागीय अफसरों के रोजाना इस मार्ग से आवाजाही करने के बावजूद अव्यस्थाओ का दिखाई न देना सिस्टम की बड़ी लापरवाही की ओर ईशारा करती है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: भाजपा जिलाअध्यक्ष के घर पर अचानक हुआ बड़ा धमाका, पढ़िए पूरी खबर
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments