अजब गजब – बुजुर्ग ने 11 बार लगवाया कोरोना का टीका  

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क (nainilive.com) – कोरोना वैक्सीन को लेकर तरह-तरह के दावे और खुलासे होते रहे हैं, लेकिन, बिहार के मधेपुरा जिले से आया नया दावा कुछ अलग है. दरअसल मधेपुरा के एक 84 वर्षीय बुजुर्ग का दावा है कि उसने एक दो नहीं बल्कि 11 बार कोरोना का टीका  लगवाया है, क्योंकि इस टीके से उसे कई तरह के फायदे हुए हैं.

जानकारी के अनुसार मधेपुरा जिला के उदाकिशुनगंज अनुमंडल अंतर्गत पुरैनी थाना के ओराय गांव निवासी ब्रह्मदेव मंडल का दावा है कि उसने अब तक कोरोना वैक्सीन की 11 डोज ली है. इतना ही नहीं उसका यह भी दावा है कि वैक्सीन से उसे काफी फायदा हुआ है जिस कारण से वे इसे बार-बार ले रहे हैं. बीते दिन वह वेक्सीन लेने के लिए चौसा पीएचसी गए थे लेकिन वहां वैक्सीनेशन का काम बंद होने के कारण वह अपना 12वां डोज नहीं ले पाएं.

बता दें, ब्रह्मदेव मंडल की उम्र आधार कार्ड पर 84 वर्ष है. वे डाक विभाग में काम भी करते थे फिलहाल सेवा निवृति के बाद गावं में ही रहते हैं. उनके मुताबिक उन्होंने अपना पहला कोरोना टीका 13 फरवरी को पुरैनी पीएससी में लगवाया था. 13 फरवरी से 30 दिसम्बर 2021 के बीच उन्होंने वैक्सीन की 11 डोज ले ली है. वह अपने साथ टिका का पूरा डिटेल डेट जैसे टाइम और स्थान कागज में लिख कर रखे हुये भी हैं.

यह भी पढ़ें 👉  पिता की संपत्ति में और बढ़ा बेटियों के हक का दायरा

जानिए कब-कब लिया कोरोना टीका

ब्रह्मदेव मंडल के रिकॉर्ड के अनुसार उन्होंने 13 फरवरी 2021 को पहला डोज पुरैनी पीएससी में लगवाया और उसके बाद दूसरा डोज भी 13 मार्च को पुरैनी पीएचसी में ही लिया. फिर तीसरा डोज 19 मई को औराय उप स्वास्थ्य केंद्र में लगवाया. वहीं चौथा डोज 16 जून को भूपेंद्र भगत के कोटा पर लगे कैम्प में लिया, पांचवा 24 जुलाई को पुरैनी बड़ी हॉट स्कूल पर लगे कैम्प में, छठा 31 अगस्त को नाथबाबा स्थान कैंप में, सातवां 11 सितम्बर को बड़ी हाट स्कूल पर, आठवां भी 22 सितम्बर को बड़ी हाट स्कूल पर, नौवां 24 सितम्बर को स्वास्थ्य उप केंद्र कलासन में, 10 वां डोज खगडिय़ा जिला के परवत्ता में लिया. वहीं इसके अलावा ब्रह्मदेव मंडल के अनुसार उन्होंने 11वां डोज भागलपुर के कहलगांव में लगवाया.

यह भी पढ़ें 👉  दिल्ली में कोरोना कर्फ्यू हटाने के लिए मुख्यमंत्री ने उप राज्यपाल को लिखा पत्र

कोरोना वैक्सीन को अमृत मानकर ले लिया 11 डोज

इस पूरे मामले को लेकर ब्रह्मदेव मंडल कहते हैं कि टीका अमृत है, सरकार ने बहुत अच्छी चीज तैयार की है, लेकिन कुछ लोग सरकार को बदनाम करना चाहते हैं. वे सभी लोगों से टीका लेने की अपील भी करते हैं. बहरहाल न्यूज 18 ब्रह्मदेव मंडल के इतनी बार टीका लेने के दावों का समर्थन नहीं करता है. लेकिन, ब्रह्मदेव मंडल के 11 बार टीका लेने के दावे ने निश्चित तौर पर बिहार में टीकाकरण प्रक्रिया पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

बिहार में टीकाकारण सिस्टम पर उठने लगा सवाल

यह भी पढ़ें 👉  राजस्थान में कोरोना की नई गाइडलाइन जारी

बता दें, एक व्यक्ति को 11 बार टीका लगाना टीकाकारण प्रक्रिया पर भी सवाल खड़ा करता है. ब्रह्मदेव ने 8 बार आधार कार्ड और एक मोबाइल नंबर पर टीका लिया, जबकि 3 बार मतदाता पहचान पत्र और पत्नी के मोबाइल नंबर पर. कैमरे से अलग स्वास्थ विभाग के कुछ कर्मियों ने बताया कि ऑफलाइन कैम्पों में लोग ऐसी गड़बड़ी कर सकते हैं, क्योंकि कैम्प में उनका आधार नंबर और मोबाइल नंबर लिया जाता है जो बाद में कंप्यूटर में फीड किया जाता है, जो मैच होने पर रिजेक्ट भी को जाता है. इसलिए कभी-कभी फीड डाटा और वैक्सिंग सेंटर पर केस रजिस्टर के डाटा में अंतर भी सामने आते हैं. वहीं इस घटना के सामने आने से स्वास्थ्य महकमा भी हरकत में आ गया है. सीएस डॉ. अमरेंद्र प्रताप शाही ने मामले की जांच करने की बात कही. उन्होंने तत्काल पुरैनी और चौसा पीएचसी के प्रभारियों से रिपोर्ट मांगी है.

नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments