बिग ब्रेकिंग – दत्तात्रेय होसबोले आरएसएस के नए सरकार्यवाह निर्वाचित

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com ) – राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा ने दत्तात्रेय होसबोले को नया ‘सरकार्यवाह’ चुना है. वह 2009 से आरएसएस के सह सरकार्यवाह थे. 66 वर्षीय दत्तात्रेय कर्नाटक के शिमोगा जिले से हैं. बेंगलुरु में प्रतिनिधि सभा की बैठक में उन्हें सर्वसम्मति से सरकार्यवाह चुना गया है. सुरेश भैयाजी जोशी की जगह दत्तात्रेय होसबोले को नया सरकार्यवाह चुना गया है. जोशी इस पद पर लगातार चार कार्यकाल से जिम्मेदारी संभाल रहे थे. हर कार्यकाल तीन साल का होता है.

RSS की निर्णय लेने वाली सर्वोच्च इकाई अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा के दो दिवसीय बैठक का आज अंतिम दिन है. दो दिवसीय बैठक में संघ के कामकाज की समीक्षा की जा रही है, देश में इसके कामकाज का विस्तार करने पर चर्चा और इसके सरकार्यवाह (महासचिव) को चुना गया है. साल 2009 से भैयाजी जोशी सरकार्यवाह रहे हैं और हर तीन साल बाद के प्रतिनिधि सभा में यह चुनाव होता है. संघ के रोज के कामकाज का नेतृत्व सरसंगचालक नहीं बल्कि सरकार्यवाह करते हैं.

यह इक्लोता ऐसा पद है जिसके लिए चुनाव संघ में चुनाव होता है. इसीलिए यह पद संघ के अंदरूनी कामकाज के लिए काफी महत्वपूर्ण है. एक तरफ इस पद के लिए दत्तात्रेय होसबोले का नाम पहले ही चर्चा में था.

दिनांक 01 दिसम्बर, 1955 को कर्नाटक के शिमोगा जिले के सोराबा तालुक़ के आपका जन्म हुआ। इन्होंने अंग्रेज़ी विषय से स्नातकोत्तर तक की शिक्षा ग्रहण की है।

देखे अनिद्रा के कारण एवं निवारण – https://youtu.be/MsrtCnyUF-k नींद न आना INSOMNIA भी है एक बीमारी I INSOMNIA I SLEEP DEPRIVATION I जाने कारण एवं इलाज I

यह भी पढ़ें :सांसद अजय भट्ट ने संसद में केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापना को लेकर उठाया बड़ा कदम, विश्वविद्यालय की स्थापना को लगे पंख

यह भी पढ़ें : उत्तराँचल पंजाबी महासभा ने किया नैनीताल की शीर्ष हस्तियों को सम्मानित

यह भी पढ़ें :प्रधानाचार्या गीता ने खुद को कमरे में किया बंद

यह भी पढ़ें : नवनियुक्त मुख्यमंत्री उत्तराखंड का महिलाओं पर बयान हुआ विवादित

यह भी पढ़ें : उत्तरांचल पंजाबी महासभा नैनीताल इकाई उत्कृष्ट योगदान के लिए आज आयोजित कर रही सम्मान समारोह

दत्तात्रेय होसबळे जी 1968 में 13 वर्ष की अवस्था में संघ के स्वयंसेवक बने और 1972 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् से जुड़े। अगले 15 वर्षों तक ये परिषद् के अ भा संगठन मंत्री रहे। ये सन् 1975-77 के जेपी आन्दोलन में भी सक्रिय थे और लगभग पौने दो वर्ष आपने ‘मीसा’ के अंतर्गत जेलयात्रा भी की। जेल में इन्होंने दो हस्तलिखित पत्रिकाओं का सम्पादन भी किया। सन् 1978 में नागपुर नगर सम्पर्क प्रमुख के रूप में विद्यार्थी परिषद् में पूर्णकालिक कार्यकर्ता हुए। विद्यार्थी परिषद् में आपने अनेक दायित्वों का निर्वहण करते हुए परिषद् के राष्ट्रीय संगठन-मंत्री के पद को सुशोभित किया। गुवाहाटी में युवा विकास केन्द्र के संचालन में आपकी महत्त्वपूर्ण भूमिका रही। अंडमान निकोबार द्वीप समूह और पूर्वोत्तर भारत में विद्यार्थी परिषद् के कार्य-विस्तार में महत्वपूर्ण भूमिका आपकी रही है ।

यह भी पढ़ें : देश में कोरोना के मामलों में फिर तेजी , केंद्रीय स्वाथ्य सचिव ने दिए आंकड़े

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में किशोर सुधार गृह से फिल्मी अंदाज में भागे 7 बच्चे

यह भी पढ़ें : नैनीताल में अग्निशमन कर्मचारियों की तत्परता से टला एक और हादसा

यह भी पढ़ें : आम आदमी पार्टी नैनीताल ने भारतीय जनता पार्टी के 4 सालों के कार्यकाल का किया विरोध धरना प्रदर्शन के रूप में

यह भी पढ़ें : वन भूमि हस्तान्तरण प्रकरणों में आपत्तियों का निस्तारण एक सप्ताह के भीतर करें सुनिश्चित – जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल

दत्तात्रेय होसबळे जी ने नेपाल, रूस, इंग्लैण्ड, फ्रांस और अमेरिका की यात्राएँ की हैं। सम्पूर्ण भारतवर्ष की असंख्य बार प्रदक्षिणा की है। अभी कुछ दिनों पूर्व नेपाल में आए भीषण भूकम्प के बाद संघ द्वारा भेजी गयी राहत-सामग्री और राहतदल के प्रमुख के नाते आप नेपाल गए थे और वहाँ कई दिनों तक सेवा-कार्य किया था। वर्ष 2004 में ये संघ के अखिल भारतीय सह-बौद्धिक प्रमुख बनाए गये। तत्पश्चात् 2008 से सह-सरकार्यवाह के दायित्व पर कार्यरत रहें हैं।

यह भी पढ़ें : अल्मोड़ा में विक्टोरिया कप ओपन महिला 7-A साइड राज्य स्तरीय महिला हॉकी प्रतियोगिता कल से शुरू

यह भी पढ़ें : आम आदमी पार्टी ने दिया मनु महारानी होटल से निकाले गए कर्मचारियों के आंदोलन को पूर्ण समर्थन

यह भी पढ़ें : प्रदेश के लिए गर्व का पल, उत्तराखण्ड पुलिस के दो अधिकारियों को मिला फिक्की स्मार्ट पुलिसिंग अवार्ड

यह भी पढ़ें : हर साँप नहीं होता जहरीलाः जिग्नासु डोलिया

दत्तात्रेय होसबळे जी मातृभाषा कन्नड़ के अतिरिक्त अंग्रेज़ी, हिंदी, संस्कृत, तमिळ, मराठी, आदि अनेक भारतीय एवं विदेशी भाषाओं के मर्मज्ञ विद्वान हैं। आप लोकप्रिय कन्नड़-मासिक ‘असीमा’ के संस्थापक-संपादक हैं।

नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page