गौरव की बात : नैनीताल स्थित शोध एवं विकास संस्थान चिनार के डाॅ0 प्रदीप मेहता ,घनश्याम कल्कि पाण्डे़ एवं राम सिंह कोरंगा को एल्फ्रेड नोबेल म्यूजियम, स्वीडन द्वारा ’’हाॅलवार हाॅल ऑफ़ फेम’’ अवार्ड से किया गया सम्मानित

Ad
Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com )- नैनीताल स्थित शोध एवं विकास संस्थान ’’सेन्ट्रल हिमालयन इस्टीट्यूट फाॅर नेचर एण्ड एप्लाइड रिसर्च (चिनार) के चेयरमैन डाॅ0 प्रदीप मेहता, कार्यक्रम समन्वयक श्री घनश्याम कल्कि पाण्डे़ एवं श्री राम सिंह कोरंगा को एल्फ्रेड नोबेल म्यूजियम, स्वीडन द्वारा आयोजित एक आॅनलाईन कार्यक्रम में ’’हाॅलवार हाॅल आॅफ फेम’’ अवार्ड से सम्मानित किया गया।


डाॅ0 मेहता, घनश्याम एवं राम सिंह कोरंगा को यह अवाॅर्ड विश्व के अन्य लेखकों के साथ यूनाइटेड नेशन की संस्था एफ0 ए0 ओ0, एलायन्स आॅफ बायोडाइवर्सिटी इन्टरनेशनल और सी0 आई0 टी0 द्वारा विभिन्न देशों के आठ स्थानीय समुदायों की खाद्य प्रणालियों के ऊपर प्रकाशित पुस्तक ’’इंडीजीनस पीपुल्स फूड सिस्टम: इनसाइट आॅन सस्टेनिबिलिर्टी एण्ड रेजीलिएन्स द फ्रन्टलाइन आॅफ क्लाइमेन्ट चेन्ज’’ में हिमालय के नामिक क्षेत्र की अनवाल एवं भोटिया जनजातियों की पांरपरिक खाद्य प्रणालियों के ऊपर लिखे गये अध्याय पर दिया गया। कार्यक्रम में अनवाल एवं भोटिया जनजातियों को भी सम्मानित किया गया। चिनार संस्थान ने जनजातियों के एवज में सम्मान ग्रहण किया। उक्त पुस्तक को ’’बेस्ट सस्टेनेबिलिटी पब्लिकेशन- 2021’’ के रूप में भी सम्मानित किया गया है।


चिनार के कार्यक्रम समन्वयक श्री घनश्याम कल्कि पाण्डे ने बताया कि इस पुस्तक को स्वीडन के काल्र्सगोरा में स्थित ’’अल्फ्रेड नोबेल हाउस में’’ सस्टेनेबल गैस्ट्रोनाॅमी प्रदर्शनी में 55 देशों की 600 पुस्तकों के साथ प्रदर्शित किया गया है। यह प्रदर्शनी 21 अक्टूबर 2021 को श्री अल्फ्रेड नोबेल के जन्मदिन पर समाप्त होगी और यह पुस्तक अब स्वीडन में अल्फ्रेड नोबल संग्रहालय के हिस्से के रूप में रहेगी। चिनार के चेयरमैन डाॅ0 प्रदीप मेहता ने इस उपलब्धि के लिए नामिक क्षेत्र की भोटिया एवं अनवाल जनजातियों का आभार व्यक्ति किया। डाॅ0 मेहता ने कहा कि इन जनजातियों ने अभी भी पांरम्परिक खाद्य प्रणालियों को सहेज कर रखा है और इस प्रकार वे जलवायु परिवर्तन के खतने से डलने में मानव सभ्यता की बहुत बड़ी सहायता करते हैं। कार्यक्रम में ’’अल्फ्रेड नोबल म्यूजियम’’ के अध्यक्ष श्री एडवाॅर्ड काॅइन्ट्रीएन’’ ने सभी लेखकों को बधाई दी और कार्यक्रम को समाप्त किया।

Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments