नैनीताल जिले में आज शाम से लागू हो गया कोविड कर्फ्यू , जाने क्या रहेगा खुला और क्या रहेगा बंद ?

Ad
Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , हल्द्वानी (nainilive.com ) – जिलाधिकारी श्री धीराज सिह गर्ब्याल ने बताया कि देर रात शासन से प्राप्त निर्देशों के क्रम में 11 मई से 18 मई के बीच कोविड कर्फ्यू प्रभावी किया जाता है। उन्होंने बताया कि जनपद में कोविड कर्फ्यू के दौरान शासन की गाइडलाइन का सख्ती के साथ अनुपालन कराया जायेगा। उन्होने कहा कि जनपद में कोविड के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर जनपद वासियों के हित में सरकार ने आगामी 11 से 18 मई तक प्रथम फेज में संपूर्ण जनपद में सख्त कोविड कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है।

त्रिफला के फायदे :- त्रिफला है महाऔषधि I त्रिफला के फायदे I Trifala benefits in Hindi I Dr. Himani Pandey I https://youtu.be/BX0NbJ4suac

मुँहासे कैसे पाए छुटकारा – जाने मुंहासे ( Pimples ) के कारण , आयुर्वेदिक चिकित्सा practical tips के साथ https://youtu.be/WGEbUs98lBE

जाने हल्दी सेवन के फायदे – हल्दी ( Turmeric ) है गुणकारी – पर ज्यादा मात्रा में सेवन से हो सकती है परेशानी I हल्दी के फायदे https://youtu.be/587nsmpGmus


जिलाधिकारी श्री धीराज सिंह गर्ब्याल ने बताया कि 18 मई सुबह 6 बजे तक कोविड कफ्र्यू लगाने का निर्णय लिया है। उन्होने बताया कि जनपद मे सस्तागल्ला दुकान, राशन की दुकानें किराना आदि की दुकानें 14 मई को 7 बजे से दोपहर 12 बजे तक खुलेंगी। सब्जी,दुध मीट आदि का कारोबार 7 बजे से लेकर सुबह 10 तक प्रत्येक दिन खुलेंगी। पशुचारा,कीटनाशक, खाद, बीज आदि के भण्डारण परिवहन आदि की सुबह 7 से 10 बजे तक अनुमति रहेगी। पेट्रोल, रसोई, गैस आदि की खुदरा बिक्री कोल्ड स्टोरेज वेयर हाउस प्राइवेट सिक्योरिटी सर्विस, सीमेन्ट,लोहे की छड, गाडियों की मरम्मत, प्रिंट,इलेक्टानिक और सोशल सहित संचार सुविधाए, आदि का निर्माण से सम्बन्धित प्रत्येक दिन 7 बजे से 10 बजे तक खुलंेगी। इसके साथ ही स्वास्थ्य सेवाओं से सम्बन्धित क्षेत्र जैसे अस्पताल दवा की दुकानें चिकित्सीय प्रयोगशालाएं एवं कलेक्शन सेन्टर भी खुले रहेंगे। उन्होने बताया कि उद्योगों पर कोई प्रतिबन्ध नही है मानको का पालन करना होगा।

यह भी पढ़ें 👉  सरकार जनता के साथ है प्रभावितों की हरसम्भव मदद की जायेगी- सीएम धामी

यह भी पढ़ें : कोरोना की दूसरी लहर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जुटा जरूरतमंदों की मदद को

यह भी पढ़ें : दुखद समाचार : नैनीताल डीएसबी परिसर के पुस्तकालयाध्यक्ष सुचेतन साह का कोरोना से निधन

यह भी पढ़ें : बिना आरटीपीसीआर रिपोर्ट व देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल मैं पंजीकरण कराये चार नवयुवक कोरोना हब दिल्ली से नैनीताल घूमने चले आए


उन्होंने बताया कि इस अवधि में केवल आवश्यक सेवाओं से जुड़े विभाग ही खुले रहेंगे। इसमें भी 50 प्रतिशत स्टाफ को ही बुलाया जा सकेगा। प्रेस के कर्मचारियों के लिए उनकी आईडी ही पास होगा। इंटर स्टेट यात्रियों को 72 घंटे पूर्व की आरटीपीसीआर रिपोर्ट लाना अनिवार्य किया गया है। इसके अलावा देहरादून स्मार्ट सिटी के पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराना होगा। आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लाने पर ही उन्हें जनपद में आने की अनुमति दी जाएगी। प्रवासियों को 7 दिन का आइसोलेशन अवधि अपनी-अपनी ग्राम सभाओं में बनाये गए स्थान में पूरी करनी होगी। जब उनमें लक्षण नहीं होंगे तब उन्हें घर भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें : कोरोना वॉरियर्स की भूमिका में पौड़ी पुलिस ने निभाया मानवता का धर्म , बुजुर्ग वृद्ध की मृत्यु पर पुलिस ने किया अंतिम संस्कार

यह भी पढ़ें : कोरोना अपडेट: उत्तराखंड में आज कोरोना के रिकॉर्ड 7028 नए मामले, 85 की मौत, 5696 ने पायी कोरोना पर विजय

यह भी पढ़ें : नैनीताल में आज कोरोना के रिकॉर्ड 76 मामले आये सामने

यह भी पढ़ें : जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने किया डीआरडीओ द्वारा बनाये जाने वाले 500 बेड के फैब्रीकेटड अस्पताल के स्थल का मौका मुआयना

यह भी पढ़ें : डीएसए मैदान में लग रही सब्जी मंडी में उड़ रही कोविड नियमों की धज्जियाँ

यह भी पढ़ें 👉  केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट पर गुस्साएं ग्रामीण, सुनाई खरी खोटी... देखें वीडियो


श्री गर्ब्याल ने बताया कि शादी समारोह में केवल 20 लोगों की अनुमति दी गयी है। उन्होंने कहा कि हालातों को देखते हुए फिलहाल लोग शादी समारोह को स्थगित करने का निर्णय भी अपने स्तर पर ले सकते हैं। इसी तरह शव यात्रा में भी 20 लोगों को ही अनुमति होगी। वैक्सीनेशन के लिए अगर 18 से 45 वर्ष के व्यक्ति घरों के बाहर निकल रहे हैं तो उन्हें अपना पंजीकरण दिखाना होगा। इसी तरह 45 से ऊपर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जाने की अनुमति होगी। ट्रेन या हवाई जहाज से आने वाले यात्रियों को लोकल ट्रांसपोर्टेशन के लिए टिकट दिखाना होगा। अब केवल 7 से 10 बजे तक आवश्यक वस्तुओं की दुकानें (फल, सब्जी, दूध, मीट) खुलेंगी। इसके साथ ही साथ मंडियों में केवल किसान और रिटेलर को ही आने की अनुमति होगी। इसके अलावा किसी और को अनुमति नहीं होगी। जनपद में सभी शिक्षण संस्थान पूरी तरह से बंद रहेंगे। निकाय निरंतर रूप से बस अड्डों, मंडियों आदि को सेनेटाईज करते रहेंगे। शराब की दुकानें और बार पूरी तरह से बंद रहेंगे। बैंक, आईटी वेंडर, गैस एजेंसी को छूट दी गयी है। इसके अलावा ड्रग्स, क्लीनिक्स, पैथ लैब, आदि को छूट दी गयी है। उन्होने बताया कि होटल एवं रेस्टोरेंट में सिर्फ किचन सर्विस चलेगी तथा होटल एवं रेस्टोरेंट को होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी। जिन होटलों में बार है, वे पूरी तरह से बंद रहेंगे।

यह भी पढ़ें : कोविड के बढ़ते खतरे को देखते हुए उत्तराखंड में एक हफ्ते के सख्त कोविड कर्फ्यू का निर्णय

यह भी पढ़ें : बेटे के ना आ पाने के कारण कोतवाली मल्लीताल पुलिस ने कराया संक्रमित वृद्ध महिला का अंतिम संस्कार

यह भी पढ़ें 👉  तीन दिन नहीं चलेगी देहरादून एक्सप्रेस

यह भी पढ़ें : कोरोना अपडेट: उत्तराखंड में आज कोरोना के रिकॉर्ड 5890 नए मामले, 180 की मौत, 2731 ने पायी कोरोना पर विजय

यह भी पढ़ें : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों ने जारी रखा काढ़ा अभियान

यह भी पढ़ें : कोरोना के कहर से नैनीताल के युवा व्यवसायी का निधन

यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : 10 मई से शुरू हो जायेगा 18 से 44 आयुवर्ग के लिए टीकाकरण, वैक्सीन पहुंची उत्तराखंड

जिलाधिकारी ने बताया कि आवश्यक सामान लाने और ले जाने वाले वाहनों को छूट रहेगी। सरकारी अधिकारियों के आॅफिस आने-जाने वाले वाहनों को छूट रहेगी। एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन से वाहनों की आवजाही, लेकिन यात्रा टिकट के साथ डाॅक्यूमेंट होना अनिवार्य होगा। आपतकालीन स्थिति में आटों-टैक्सी को आवाजाही में छूट और मरीजों एवं तीमारदारों के वाहनों को भी रियायत दी गई। मेडिकल कर्मचारियों के वाहन, वैक्सीनेशन और कोरोना की टेस्टिंग के लिए जाने के लिए भी रियायत होगी। आवश्यक सेवाओं और कोविड-19 से जुडी सेवाओं वाले सरकारी-निकायों के वाहनों को चलने की अनुमति होगी। निजी वाहन 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चल सकेगे। अंतर्राज्यीय परिवहन 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चलने की छूट होगी तथा वैध पहचान पत्र के साथ मीडिया को आवाजाही की छूट होगी।

यह भी पढ़ें : आरएसएस ने कोरोना फ्रंट लाइन वारियर्स को बांटे फेस शील्ड व आयुर्वेदिक काढ़ा, डाक्टरों ने दिया निःशुल्क चिकित्सकीय परामर्श

यह भी पढ़ें : उतराखंड सरकार के पास तत्काल कोरोना की चैन को तोड़ने के लिए सम्पूर्ण लॉकडाउन लगाना ही अंतिम विकल्प ÷ वरिष्ठ समाजसेवी योगेश राघव

यह भी पढ़ें : बिना आरटीपीसीआर रिपोर्ट व देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल मैं पंजीकरण कराये चार नवयुवक कोरोना हब दिल्ली से नैनीताल घूमने चले आए

Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments