हल्द्वानी में Role of Innovative Technology for Rural Development’ पर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , हल्द्वानी ( nainilive.com )- एम० आई ० ई ० टी ० कुमाऊँ , हल्द्वानी में एक दिवसीय ‘ Role of Innovative Technology for Rural Development’ शीर्षक पर एक राष्ट्रीय संगोष्ठी (National Conference )का आयोजन प्रातः 10:30 बजे से सायं 530 बजे तक किया गया। कार्यशाला का शुभारम्भ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय हल्द्वानी के कुलपति प्रो० ओ०पी० एस० नेगी द्वारा किया गया जिसमे कुलपति ने नवाचार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के विकास में किस प्रकार मदद की जा सकती है को अनेक क्षेत्रों का उदाहरण दे कर समझाया। मुख्य वक्ता मुख्य सलाहकार उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय केप्रोफ़ेसर दुर्गेश पंत ने विषय की विस्तृत रूप से प्रकाश डालते हुए श्रोताओं को Hभारत सरकार की कई योजनाओं के विषय में विस्तृत एवं उपयोगी जानकारी दी ।

Ad

इसके पश्चात उत्तराखंड विश्वविद्यालय के विज्ञान संकाय के निदेशक प्रो० पी०डी० पंत , तीर्थांकर महावीर विश्वविद्यालय के प्रोफेसर कृष्ण के पांडे, रूहेलखंड विश्वविद्यालयके कम्प्यूटर साइन्स विभाग के अध्यक्ष प्रो०विनय रिशिवाल, प्रो० आशुतोष भट्ट , ग्रैफ़िक एरा वि० वि० के प्रो० जनमेजय पंत, देहरादून की शिक्षाविद डॉक्टर रीमा पंत, आम्रपाली वि०वि० के डॉक्टर पंकज साह ने विषय पर प्रकाश डालते हुए विषय की तकनीकी जानकारी दी । कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए उच्च शिक्षा के संयुक्त निदेशक प्रो० ए० एस० उनियाल ने नवाचार महत्त्व समझाया। एम0 आई0 ई ० टी ० कुमाऊं के प्रबंध निदेशक डॉ बहादुर सिंह बिष्ट ने भी इसी क्रम में छात्र -छात्रों को ग्रामीण उपयोगी अनेक़ नवाचारों के विषय में बताया। इसके पश्चात प्रोफेसर पी0 सी ० कविदयाल द्वारा स्वरोजगार में शिक्षा का महत्व बताया गया।

यह भी पढ़ें 👉  सचिव महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग एचसी सेमवाल ने ली बाल विकास परियोजना एवं कार्यों की समीक्षा बैठक

संगोष्ठी के organising अध्यक्ष गवर्न्मंट पी जी कॉलेज, रूद्रपुर के प्राचार्य प्रो के के पाण्डे ने भी विषय पर प्रकाश डाला। संस्थान के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर तरुण सक्सेना द्वारा बताया गया कि उत्तराखंड राज्य में नवाचार क़ी अपार सम्भावनाएँ हैं तथासंगोष्ठी का संचालन सहायक प्राध्यापक प्रियंका स्याल द्वारा किया गया. इस कार्यशाला में सहायक प्राध्यापक डॉक्टर आशीस उपाध्याय ,डॉक्टर भारत पांडे, श्री भास्कर भट्ट, कु. नीलम, शिबा हसन , कु काजल जोशी, प्रदीप बिष्ट, विनोद बुधलाकोटी, कृष्णा बेलवाल आदि एवं समस्त छात्र-छात्राएं उपस्थित थे.

यह भी पढ़ें 👉  वन नेशन वन राशन कार्ड (एक देश का राशन कार्ड) योजना के अन्तर्गत कोविड-19 महामारी के दौरान राहत पहुंचाने के उद्देश्य से नैनीताल जिले में कुल 580 उपभोक्ता हुए लाभान्वित
Ad
Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments