यूक्रेन संकट पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक शुरू, भारत ने सभी से संयम बरतने की अपील की

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क (nainilive.com) – रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पूर्वी यूक्रेन में रूस समर्थित अलगाववादी क्षेत्रों की स्वतंत्रता को मान्यता दे दी है. रूस के इस फैसले से यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की पश्चिम देशों की आशंका के बीच तनाव और बढ़ेगा. राष्ट्रपति की सुरक्षा परिषद की बैठक के बाद पुतिन ने यह घोषणा की और इसी के साथ मॉस्को समर्थित विद्रोहियों और यूक्रेनी बलों के बीच संघर्ष के लिए रूस के खुलकर बल और हथियार भेजने का रास्ता साफ हो गया है.  पुतिन के इस फैसले की अमेरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया जैसा देशों ने निंदा की है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आपात बैठक शुरू हो चुकी है. पश्चिमी देशों को इस बात का डर है कि रूस किसी भी समय यूक्रेन पर हमला कर सकता है और वह पूर्वी यूक्रेन में झड़पों को हमला करने के लिए बहाने के तौर पर इस्तेमाल कर सकता है.

Ad

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आपात बैठक में ब्रिटेन ने कहा है कि रूस को यूक्रेन के दो हिस्सों को अलग देश का मान्यता देने वाला फैसला वापस लेना चाहिए. भारत ने कहा, ”तत्काल प्राथमिकता रूस-यूक्रेन संकट को कम करना है. हम सैन्य वृद्धि बर्दाश्त नहीं कर सकते. हम हर तरफ से संयम बरतने का आह्वान करते हैं. हमें विश्वास है कि इस मुद्दे को केवल कूटनीतिक बातचीत से ही सुलझाया जा सकता है. हमें तनाव को कम करने की कोशिश करने वाली पार्टियों द्वारा की गई हालिया पहलों को जगह देने की जरूरत है.”

asthama_treatment_at_himan_ayurveda
asthama treatment at himan ayurveda
Ad
Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments