एसटीएच जा रहे हैं तो रहें सचेत, संभाल कर रखें जेब

Share this! (ख़बर साझा करें)

चोरी की कई घटनाओं से परेशान एसटीएच प्रबंधन ने पुलिस को लिखा खत, कार्रवाई की मांग

न्यूज़ डेस्क , हल्द्वानी ( nainilive.com )- यदि आप इलाज और तीमारदारी के लिए सुशीला तिवारी राजकीय अस्पताल जा रहे हैं तो सचेत रहें। अस्पताल में चोरी की घटनाएं बढ़ गई हैं। मोबाइल चोरी के साथ पर्स उड़ाना भी आम घटना हो गई है। सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए पूरे कुमाऊं से मरीज पहुंचते हैं। रोजाना सैकड़ों लोगों की अस्पताल में आवाजाही होती है। कोरोना काल में अस्पताल में रोगी और तीमारदारों के मोबाइल फोन चोरी होने की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। कई तीमारदारों की जेब से पर्स पर हाथ साफ हो चुका है। अस्पताल में चोरियों की लगातार शिकायतें आ रही हैं।

यह भी पढ़ें 👉  आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने की विधायक प्रत्याशी डॉ भुवन आर्य को जिताने की अपील

पीड़ित पुलिस और अस्पताल के अधिकारियों से शिकायतें कर रहे हैं। पिछले दिन ही पुलिस ने अस्पताल से मोबाइल चोरी की दो घटनाओं का खुलासा करते हुए महिला सफाई कर्मी को पकड़ा था। इस बीच अस्पताल के अधीक्षक अरुण जोशी ने पुलिस प्रशासन को खत लिखकर चोरी की घटनाओं पर चिंता जताई है। उन्होंने पुलिस से आवश्यक कदम उठाने की मांग की है। एमएस का कहना है कि अक्सर चोरी की शिकायतें आ रही हैं। वह खुद ही चोरी की घटनाओं से परेशान हो गए हैं। पीड़ितों को पुलिस के पास जाने को कहा जा रहा है। पुलिस ने अपेक्षित कार्रवाई की मांग की है।

यह भी पढ़ें 👉  कोरोना: सोबन सिंह जीना बेस अस्पताल में टीबी और चेस्ट वार्ड बंद

अक्सर नहीं होती चोरी की रिपोर्ट, बच निकलते हैं
पुलिस के रवैये के चलते पीड़ित मोबाइल फोन चोरी के मामलों में एफआइआर दर्ज कराने से कतराते हैं। मोबाइल चोरी की सूचना लेकर थाने पहुंचने वाले पीड़ितों को हतोत्साहित किया जाता है। उन्हें कानूनी झंझटों में फंसने के डर से हतोत्साहित कर बैरंग भेज दिया जाता है। पुलिस महज गुमशुदगी दर्ज कर इतिश्री कर लेती है। एसटीएच से मोबाइल चोरी समेत अधिकांश मामलों में यही हुआ। तमाम चोरी की घटनाएं गुमशुदगी में निपटा दी गईं। पुलिस की इस कार्यप्रणाली के चलते कानूनी कार्रवाई नहीं हो पाती और चोर साफ बच निकलते हैं। यही कारण है कि चोरों की सक्रियता बनी हुई है और मोबाइल चोरी की घटनाओं में इजाफा होता जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  राज्य कर विभाग ने की कार्रवाई, नोटिस का जवाब नहीं देने पर पंजीयन भी हो सकता है निलंबित
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments