दुःखद समाचार : वरिष्ठ पत्रकार आबाद जाफरी नहीं रहे

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com )- नैनीताल में उर्दू पत्रकारिता के आधार स्तम्भ एवं वरिष्ठ पत्रकार , लेखक , शिक्षक एवं अधिवक्ता आबाद जाफरी का आज प्रातः निधन हो गया। वह बीते 16 नवंबर से कूल्हे में फ्रैक्चर के कारण कृष्णा हॉस्पिटल हल्द्वानी में भर्ती थे। इससे पूर्व में भी वह एसआरएमएस बरेली से अपना उपचार करा रहे थे। कृष्णा हॉस्पिटल हल्द्वानी में उनका कूल्हे का सफल ऑपरेशन भी हो गया था , एवं वह स्वास्थय लाभ ले रहे थे। लेकिन अचानक ही उनके स्वास्थय में गिरावट आनी शुरू हुई , जिसके बाद उन्हें आईसीयू में भर्ती करना पड़ा , जहाँ वह जिंदगी से अपनी जंग लड़ रहे थे। आज प्रातः 8 बजे के लगभग उन्होंने अपनी अंतिम सांस ली।

आबाद जाफरी ने अपने करियर की शुरुआत एक शिक्षक के रूप में की और पूर्व शिक्षक के रूप में उन्होंने अपने कर्तव्यों को पूर्ण निष्ठा के साथ 41 वर्षों तक निभाया और उसके बाद 2014 में हाईकोर्ट बार एसोसिएशन की सदस्यता ग्रहण कर प्रैक्टिस शुरू की। नैनीताल में उर्दू पत्रकारिता के साथ हिंदी पत्रकारिता के वह आधार स्तम्भ रहे , और पत्रकारिता के क्षेत्र में उर्दू पत्रकार एवं कलमकार समिति को स्थापित कर नैनीताल में 40 वर्षों तक हिंदी पत्रकारिता दिवस के रूप में 30 मई को कार्यक्रम प्रतिवर्ष आयोजित करते हुए अपना योगदान दिया। रंगमंच के साथ साथ समाजसेवी के रूप में भी बेहद शालीनता के साथ उन्होंने समाज में अपना प्रभाव बनाया।

वर्ष 2002 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई से उनके पुराने संबंधों के चलते पुरानी दोस्ती होने की वजह से उनके साथ कई विदेश यात्राओं पर इंटरनेशनल मीडिया डेलिगेशन के मेंबर के रूप में उनके साथ रहे। इन सेवाओं के चलते उन्हें कई पुरस्कार प्रदान किए गए। इतने वर्षों में उन्होंने कई पुस्तकें लिखी और एक शायर,कवि और लेखक के रूप में एक अच्छी छवि के रूप में भी उन्हें जाना जाता है। एक नया राहगीर और कानूनी पहलु समाचार पत्रों के माध्यम से उन्होंने निष्पक्ष पत्रकारिता की मिसाल पेश की। आबाद जाफरी की पहचान सूफी आध्यात्म गुरु के रूप में भी की जाती है। वह शीशगढ़ स्तिथ खानखाहे इर्शादिया के सज्जादा नशीन पीर चिस्ती के रूप में भी खासे माने जाते रहे।

यह भी पढ़ें 👉  कोरोना के बढ़ते मामलो के दृष्टिगत शिक्षा विभाग ने जारी करी नई गाइडलाइन
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments