जरूरतमंदों व बीमारों का सहारा है रवि रोटी बैंक

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क (nainilive.com) – रवि रोटी बैंक (ravi roto bank) की कहानी भी बड़ी प्रेरणादायक है आपको बता दें कि कुछ दोस्तों ने मिलकर एक भूखे आदमी को भोजन कराया जिसके बाद भूखे आदमी की खुशी और चेहरे पर संतोष का भाव देखकर उन दोस्तों को सुकून मिला उसी समय उन दोस्तों को ख्याल आया कि क्यों ना रोटी बैंक बनाया जाए और इसी ख्याल के साथ 15 अक्टूबर (october) 2018 को हल्द्वानी में रवि रोटी बैंक की शुरुआत हुई.

Ad

शुरुआत में काफी दिक्कतें आई लेकिन अब हल्द्वानी (haldwani) में रवि रोटी बैंक एक पहचान बन चुका है गरीबों और बेसहारों का पेट भरना दुनिया का सबसे नेक काम होता है इस काम को हल्द्वानी कि रवि रोटी बैंक कर रहा है आपको बता दें कि रवि रोटी बैंक की टीम हल्द्वानी (haldwani) शहर में कोई भी भूखा ना रहे कोई भी भूखा पेट ना सोए इसलिए वह भीड़भाड़ वाले इलाकों में खासकर गरीब और कि लोगों को खाना वितरित करते हैं. रवि रोटी बैंक का मुख्य उद्देश्य है किस शहर में कोई भी भूखा ना सोए जिसके लिए उनकी टीम दिन रात मेहनत कर रही है.

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल में मानसून की पहली बारिश ने व्यवस्थाओं की खोली पोल

रवि रोटी बैंक की टीम द्वारा प्रतिदिन 600 लोगों को भोजन कराया जाता है. टीम के सभी सदस्य मिलजुल कर इस कार्य को कर रहे हैं. रवि रोटी बैंक के सदस्य टीम के सदस्यों ने बताया कि किसी भी गरीब और बेसहारा को भोजन करा कर जो सुकून मिलता है उससे हम सभी को अच्छा लगता है हल्द्वानी में रवि रोटी बैंक को कौन नहीं जानता हल्द्वानी में  रवि रोटी बैंक अब एक अपनी अलग पहचान बना चुका  है.

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान केंद्र देहरादून द्वारा Water scarcity and Springshed Management in the Indian Himalayan Region पर विशेषज्ञ व्याख्यान का आयोजन
जाने क्यों हो जाते हैं हाथ पैर सुन्न | जाने क्या हैं कारण | Numbness of hand
Ad
Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments