सैनिक स्कूल घोड़ाखाल का 55 वां स्थापना दिवस कार्यक्रम मनाया गया उत्साहपूर्वक

सैनिक स्कूल घोड़ाखाल का 55 वां स्थापना दिवस कार्यक्रम मनाया गया उत्साहपूर्वक

सैनिक स्कूल घोड़ाखाल का 55 वां स्थापना दिवस कार्यक्रम मनाया गया उत्साहपूर्वक

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com )- सैनिक स्कूल परिसर में सैनिक स्कूल, घोड़ाखाल का 55 वां स्थापना दिवस अत्यंत उत्साहपूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम का प्रारंभ विद्यालय की प्रधानाचार्या कर्नल (डॉ) स्मिता मिश्रा द्वारा युद्ध स्मारक पर माल्यार्पण कर किया गया। प्रधानाचार्या कर्नल (डॉ) स्मिता मिश्रा ने स्वर्गीय मेजर चन्द्रशेखर मिश्रा को श्रद्धांजलि दी।

देखे अनिद्रा के कारण एवं निवारण – https://youtu.be/MsrtCnyUF-k नींद न आना INSOMNIA भी है एक बीमारी I INSOMNIA I SLEEP DEPRIVATION I जाने कारण एवं इलाज I

यह भी पढ़ें :आरएसएस के प्रमुख पदों पर हुआ बदलाव

यह भी पढ़ें – बिग ब्रेकिंग – दत्तात्रेय होसबोले आरएसएस के नए सरकार्यवाह निर्वाचित

यह भी पढ़ें :प्रधानाचार्या गीता ने खुद को कमरे में किया बंद

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर : 21 सितंबर से खुलेंगे कक्षा 1 से 5 तक के स्कूल

मेजर चन्द्रशेखर मिश्रा ने 1973 में सैनिक स्कूल, घोड़ाखाल में प्रवेश लिया था। सन् 1981 में आप राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में दाख़िल हुए तथा इसके पश्चात् आप 14 जाट रेजिमेंट में सम्मिलित हुए। 6 दिसंबर, 1996 को जब वे कम्पनी कमांडर के रूप में अपने सैन्य दल का नेतृत्व करते हुए गश्त पर थे, तो उनकी मुटभेड़ आतंकियों से हुई। उनकी कम्पनी ने 4 में से 3 आतंकियों को वहीं ढेर कर दिया। अपनी जान की परवाह किए बग़ैर घायल मेजर मिश्रा ने एक निकटतम मुटभेड़ में चौथे आतंकी को मार गिराया। किंतु ग़ंभीर रूप से घायल होने के कारण मेजर मिश्रा वीरगति को प्राप्त हुए। उनके साहस एवं पराक्रम के कारण उन्हें शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी : चोरों का शहर में बढ़ रहा है आतंक


प्रधानाचार्या कर्नल (डॉ) स्मिता मिश्रा ने अपने वक्तव्य में भूतपूर्व एवं वर्तमान में विद्यालय परिवार का हिस्सा रहे समस्त शिक्षकगण कर्मचारीगण एवं छात्रगण के प्रति आभार अभिव्यक्त किया है, जिनके परिश्रम से विद्यालय की गरिमा एवं प्रतिष्ठा दीर्घकालिक एवं स्थायी बनी हुई है।
आपने उन तमाम कैडेट्स के प्रति भी कृतज्ञता व्यक्त की जिन्होंने भारत की रक्षा के लिए उत्साह एवं जोश के साथ एन डी ए में प्रवेश लिया है और जो अभी प्रवेश लेने की तैयारी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में किशोर सुधार गृह से फिल्मी अंदाज में भागे 7 बच्चे

यह भी पढ़ें : नैनीताल में अग्निशमन कर्मचारियों की तत्परता से टला एक और हादसा

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद : तेदुएं ने वृद्ध महिला को बनाया शिकार

यह भी पढ़ें : आम आदमी पार्टी नैनीताल ने भारतीय जनता पार्टी के 4 सालों के कार्यकाल का किया विरोध धरना प्रदर्शन के रूप में

भारत के समस्त सैनिक स्कूलों में सैनिक स्कूल, घोड़ाखाल ने पिछले दो दशकों में अधिकतम छात्रों को सैन्य सेवाओं में भेजने के लिए रक्षामंत्री ट्रॉफी प्राप्त कर मील का पत्थर स्थापित किया है। इस वर्ष भी विद्यालय की 9 वीं रक्षामंत्री ट्रॉफी पर प्रबल दावेदारी है। इस कार्यक्रम में विद्यालय के छात्र कैडेट अमन सिंह द्वारा सैनिक स्कूल, घोड़ाखाल के गौरवमयी यात्रा पर प्रकाश डाला गया। कार्यक्रम में विद्यालय के प्रशासनिक अधिकारी विंग कमांडर एम प्रेमकुमार, उप प्रधानाचार्य स्क्वॉड्रन लीडर टी रमेश कुमार एवं समस्त विद्यालय परिवार सम्मिलित था।

नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments