हम पूरी तरह से सजग, प्रदेश में बाढ़ सुरक्षा के पुख्ता इंतजामः महाराज

हम पूरी तरह से सजग, प्रदेश में बाढ़ सुरक्षा के पुख्ता इंतजामः महाराज

हम पूरी तरह से सजग, प्रदेश में बाढ़ सुरक्षा के पुख्ता इंतजामः महाराज

Share this! (ख़बर साझा करें)

सिंचाई मंत्री ने किया संभावित बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई एवं स्थलीय सर्वेक्षण

न्यूज़ डेस्क , हरिद्वार ( nainilive.com )- प्रदेश में मानसून की दस्तक से पूर्व अपना होमवर्क पूरा करते हुए प्रदेश के सिंचाई, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने गुरुवार को जनपद के संभावित बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई एवं स्थलीय सर्वेक्षण करते हुए सिंचाई विभाग द्वारा बाढ़ सुरक्षा हेतु किये गये गए कार्यों का निरीक्षण किया।

प्रदेश के सिंचाई पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने गुरुवार को हरिद्वार जनपद के संभावित बाढ़ प्रभावित ग्राम कांगडी, ग्राम बिशनपुर-कुंडी तटबंध, ग्राम भोगपुर-बालावाली तटबंध एवं बालावाली खानपुर तटबंध का हवाई सर्वेक्षण करने के साथ-साथ बालावाली-खानपुर तटबंध का स्थलीय निरीक्षण भी किया। सिंचाई मंत्री श्री सतपाल महाराज ने बताया उपरोक्त सभी क्षेत्रों में गंगा नदी से बाहर सुरक्षा हेतु लगातार विभाग द्वारा होमवर्क किया जा रहा है।मानसून से पूर्व बाढ़ सुरक्षा से संबंधित तैयारियों के संबंध वह कई बार विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर चुके हैं।

यह भी पढ़ें 👉  लिफ्ट के बहाने पुलिस कर्मी ने लड़की के साथ छेड़खानी

सिंचाई मंत्री श्री महाराज ने कहा कि सिंचाई विभाग द्वारा पूरे प्रदेश में बाढ़ सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। हम पूरी तरीके से सजग हैं। पूरे उत्तराखंड के अंदर जगह-जगह मॉनिटरिंग कमेटी बना दी गई है। श्री महाराज ने कहा कि भोगपुर से बालावाली तटबंध की सुरक्षा हेतु नाबार्ड मद के अंतर्गत 02 संख्या स्परों के निर्माण की योजना जिसकी लागत 231. 38 लाख, बालावाली से खानपुर तटबंध में नाबार्ड मद से 568.06 लाख की बाढ़ सुरक्षा योजना गतिमान है। इसके तहत 100 मीटर लंबाई के 4 स्पर तथा तटबंध की स्ट्रेन्थिनिंग आदि का कार्य 80 प्रतिशत तक पूर्ण किया जा चुका है। जबकि शेष कार्य भी शीघ्र ही पूर्ण कर दिया जाएगा।

सिंचाई मंत्री श्री सतपाल महाराज ने बताया कि बालावाली से खानपुर तटबंध के पुनर्निर्माण की एक वृहद योजना जिसकी लागत 11512.18 लाख है, स्वीकृति हेतु जी.एफ.सी.सी. पटना को प्रेषित की गई है, जिसकी स्वीकृति हेतु कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कहा कि पूर्व निर्मित बन्धों की तात्कालिक सुरक्षा हेतु वायरक्रेट स्पर एवं चैनेलाईजेशन हेतु भोगपुर से बालावाली तटबंध की सुरक्षा के लिए 01 संख्या, बालावाली से खानपुर तटबंध की सुरक्षा हेतु 07 संख्या, खानपुर मार्जिनल बंध की सुरक्षा हेतु 02 संख्या, बिशनपुर कुण्डी बंध की सुरक्षा हेतु 05 संख्या, कांगड़ी में बाढ़ सुरक्षा हेतु 02 संख्या, गाजीवाली में 03 संख्या एवं सोलानी बंधे की सुरक्षा हेतु 03 संख्या सहित कुल 23 संख्या प्राक्कलन जिसकी लागत 301.69 लाख है गठित कर स्वीकृति की कार्यवाही हेतु उच्च स्तर को प्रेषित की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊँ विश्वविद्यालय के सर जे० सी० बोस परिसर स्थित फार्मेसी विभाग में बी० फार्म पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु योग्यता सूचकांक जारी

सिंचाई मंत्री श्री सतपाल महाराज ने बताया कि इसके अतिरिक्त आपदा न्यूनीकरण के अंतर्गत गाजीवाली में 03 संख्या, कांगड़ी में 01 संख्या, सजनपुर पीली में 01 संख्या तथा बसोचन्दपुर गैण्डीखाता में कृष्णायन गौशाला की बाढ़ से सुरक्षा हेतु 01 संख्या कुल 6 संख्या जिसकी प्राक्कलन लागत 52.12 लाख है उसके लिए जिला स्तरीय आपदा न्यूनीकरण हेतु गठित समिति द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई है जिस पर कि शीघ्र ही कार्य प्रारंभ कराए जाएंगे। श्री महाराज ने कहा कि मानसून के समय संवेदनशील स्थलों पर तात्कालिक बचाव हेतु वायरक्रेट एवं ई. सी बैग में रेत भरकर पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  जनसुनवाई मे पंजीकृत समस्याओं को समयावधि मेे निस्तारित करना करें सुनिश्चित - डीएम गर्ब्याल

जनपद में संभावित बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के हवाई एवं स्थलीय निरीक्षण के अवसर पर क्षेत्रीय विधायक श्री कुंवर प्रणव चैंपियन, सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता जयपाल सिंह, अधिशासी अभियंता डीके सिंह, अधीक्षण अभियंता एन.के. सिंह, लक्सर के एसडीएम शैलेंद्र नेगी और भाजपा के मंडल अध्यक्ष सुभाष सैनी सहित अनेक भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments