खराब चीनी भेजने वाली मिल से चीनी खरीद पर रोक-काली भेजने के बाद आरएफसी ने की कार्रवाई

Share this! (ख़बर साझा करें)

-86 कुंतल चीनी को भेजा वापस

न्यूज़ डेस्क , हल्द्वानी ( nainilive.com )- सरकारी सस्ते गल्ले के तहत बांटी जा रही सस्ती चीनी के लिए खराब गुणवत्ता की चीनी सप्लाई करना ऊधमसिंह नगर जिले की चीनी मिल से चीनी खरीद पर रोक लगा दी गई है। आरएफसी मामले की जांच कर रहा है।

पिछले माह राज्य सरकार ने घोषणा की थी कि प्रत्येक परिवार को 25 रुपए किलो के हिसाब से एक राशन कार्ड पर दो किलो चीनी मिलेगी। बीते माह सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों पर चीनी का वितरण भी किया गया। इधर कुछ राशन कार्ड धारकों ने विभाग को शिकायत भेजी कि उन्हें जो चीनी भेजी जा रही है वो काली है और उसकी गुणवत्ता खराब है। जांच में चीनी की खराब गुणवत्ता मिलने के बाद आरएफसी कुमाऊं ने चीनी मिल से जांच पूरी होने तक खरीद पर रोक लगा दी है। इसके अलावा पहाड़ों को भेजी गई चीनी के भी जांच के निर्देश दे दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  लिफ्ट के बहाने पुलिस कर्मी ने लड़की के साथ छेड़खानी

हल्द्वानी आरएफसी गोदाम के विपणन निरीक्षक प्रमोद कुमार ने बताया राशन कार्ड धारकों को मिलने वाली चीनी काली आने की सूचना प्राप्त हुई। बीते शनिवार को ऊधमसिंह नगर के बाजपुर चीनी मिल से छह ट्रकों में चीनी आरएफसी गोदाम पहुंची। इनकी जांच की गई तो 86 कुंतल (172 कट्टों) में काली चीनी मिली। इससे पहले नैनीताल, बागेश्वर, हल्द्वानी भी भेजी जा चुकी थी। चीनी की गुणवत्ता खराब मिलने के बाद उन्होंने तत्काल इसकी सूचना आरएफसी कुमाऊं को दी। जिसके बाद 86 कुंतल चीनी को वापस कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  बेलबाबा चुंगी पर दबगई, बस चालक को पीटा

इसके बाद आरएफसी कुमाऊं ललित मोहन रयाल ने जब तक चीनी की जांच नहीं हो जाती है तब तक बाजपुर चीनी मिल से खरीद पर रोक लगा दी है। इस चीनी मिल से करीब साढ़े तीन हजार कुंतल की और चीनी खरीद होनी है। इसके अलावा अन्य मिलों से भी चीनी खरीदी जा रही है। गोदाम से सही चीनी की जांच कर सस्ता गल्ला दुकानदारों को बांटी जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  विधायक को मिल रही थी वीडियो वाइरल करने की धमकी
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments