ओएलएक्स ( OLX ) में वाहन खरीद-फरोख्त व अन्य माध्यमों से धोखाधड़ी करने वाले चार आरोपियों को नैनीताल पुलिस ने किया गिरफ्तार

ओएलएक्स ( OLX ) में वाहन खरीद-फरोख्त व अन्य माध्यमों से धोखाधड़ी करने वाले चार आरोपियों को नैनीताल पुलिस ने किया गिरफ्तार

ओएलएक्स ( OLX ) में वाहन खरीद-फरोख्त व अन्य माध्यमों से धोखाधड़ी करने वाले चार आरोपियों को नैनीताल पुलिस ने किया गिरफ्तार

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , हल्द्वानी ( nainilive.com )- पुलिस ने ओएलएक्स ( OLX ) में वाहन खरीद-फरोख्त व अन्य माध्यमों से धोखाधड़ी करने वाले चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिन्हें कार्यवाही के बाद न्यायालय में पेश किया जा रहा है। बता दें कि बीती 9 फरवरी को सेंचुरी पेपर मिल में कार्यरत मूल रूप से रूड़की निवासी विकास अग्रवाल पुत्र केवी लाल गुप्ता ने ओएलएक्स में अल्टो कार का विज्ञापन देखा। जिसमें दिये गये नंबरों पर उसने संपर्क किया तो आर्मी का अफसर बनकर उससे बातचीत की गई। इस तरह गाड़ी की डिलीवरी के नाम पर एक लाख से अधिक की धोखाधड़ी कर ली गई।

यह भी पढ़ें 👉  भगत ने किया साढ़े 3 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास

इसी तरह गौरव सिंह पुत्र जनदेव सिंह निवासी ग्राम पदमपुर देवलिया मोटाहल्दू से व्हाट्सअप में कोड भेजकर 83 हजार की धोखाधड़ी की गई। इन मामलों में मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने ठगों की सुरागकशी शुरू कर दी। मामले में जानकारी देते हुए एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने बताया कि ठगों की गिरफ्तारी के लिए लालकुआं कोतवाल संजय कुमार के नेतृत्व में टीमें गठित कर सर्विलांस की मदद ली गई। इस आधार पर 22 जून को अभियुक्तों को कस्बा डीग राजस्थान से गिरफ्तार किया गया।

अभियुक्तों ने पुलिस को अपने नाम मिजाज खान पुत्र रसीद खान निवासी ग्राम धूलबास थाना कामा जिला भरतपुर राजस्थान, इमरान खान पुत्र रहीस खान पिवासी ग्राम बदडबास जिला भरतपुर, राजस्थान, हैदल अली पुत्र फारूख निवासी ग्राम देवसरस, जिला मथुरा उत्तर प्रदेश व कामरान पुत्र स्व. ईसब निवासी ग्राम खंूटाबास जोचगा, जिला भरतपुर राजस्थान बताये हैं।

यह भी पढ़ें 👉  आज से दाखिले के लिए दस्तावेजों का होगा सत्यापन, एमबीपीजी में स्नातक के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू

पूछताछ में अभियुक्तों ने बताया कि वह ओएलएक्स में विज्ञापन देखकर वाहन स्वामी से संबंधित जानकारी जुटाते थे और आर्मी अफसर बनकर ओएलएक्स में अपना विज्ञापन डाल देते थे। इसके बाद ग्राहक से कीमत तय कर पैसा अपने खाते में स्थानान्तरित करवा लेते थे। इन मामलों में पुलिस ने सबसुख पुत्र रूद्दार उर्फ रूजदार निवासी ग्राम गदडबास, जिला भरतपुर राजस्थान व राहुल पुत्र मजला निवासी ग्राम देवसरस थाना गोरवधन जिला मथुरा को वांछित किया है। एसएसपी ने बताया कि अभियुक्तों द्वारा करोड़ों का लेनदेन करने की बात सामने आई है। जिसकी जांच की जा रही है। पकड़े गये अभियुक्तों के कब्जे से पुलिस ने 8 मोबाइल फोन,7 सिम, एटीएम आदि बरामद किए हैं। सफलता प्राप्त करने वाली टीम में लालकुआं कोतवाल संजय कुमार के साथ एसआई कमित जोशी, प्रकाश पोखरियाल, कांस्टेबल पवन कुमार, आनन्दपुरी, एसओजी के दीपक अरोरा, जितेंद्र कुमार, वीरेंद्र चैहान, कुंदन कठायत, अनिल गिरी, किशन चन्द्र शर्मा शामिल रहे।

यह भी पढ़ें 👉  जनसुनवाई मे पंजीकृत समस्याओं को समयावधि मेे निस्तारित करना करें सुनिश्चित - धीराज सिह गर्ब्याल
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments