प्रदेश में चयनित 190 अटल उत्कृष्ठ विद्यालय निर्धन परिवार के बच्चों के सर्वांगीण विकास में होंगे सहायक सिद्ध – अरविन्द पाण्डेय

प्रदेश में चयनित 190 अटल उत्कृष्ठ विद्यालय निर्धन परिवार के बच्चों के सर्वांगीण विकास में होंगे सहायक सिद्ध - अरविन्द पाण्डेय

प्रदेश में चयनित 190 अटल उत्कृष्ठ विद्यालय निर्धन परिवार के बच्चों के सर्वांगीण विकास में होंगे सहायक सिद्ध - अरविन्द पाण्डेय

Share this! (ख़बर साझा करें)

न्यूज़ डेस्क , नैनीताल ( nainilive.com ) – विद्यालयी शिक्षा, प्रौढ़ शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, खेल, युवा कल्याण एवं पंचायती राज मंत्री श्री अरविन्द पाण्डेय ने शुक्रवार को अटल उत्कृष्ट विद्यालय के रूप में चयनित राजकीय बालिका इंटर कॉलेज तल्लीताल का विधिवत शुभारंभ किया। अटल उत्कृष्ठ विद्यालय में चयनित राजकीय बालिका इंटर कालेज अब केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से मान्यता प्राप्त होने के कारण विद्यालय में अंग्रेजी शिक्षा मिलने से निर्धन परिवार के बच्चे भी अंग्रेजी भाषा में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में चयनित 190 अटल उत्कृष्ट विद्यालय हैं, 797 पदों की आवश्यकता है, इस आवश्यकता की पूर्ति हेतु विभाग के 3950 टीचरों ने आवेदन किया है जिनकी स्क्रीनिंग 15 जुलाई को होगी, जिससे अटल उत्कृष्ट विद्यालयों को योग्य शिक्षक प्राप्त होंगे। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने अपने सम्बोधन में कहा कि उत्तराखंड बोर्ड द्वारा संचालित विद्यालयों को सीबीएसई बोर्ड द्वारा मान्यता मिलने से विद्यालय में अब स्मार्ट क्लासेस के अलावा अन्य अत्याधुनिक पद्धति से जुड़ी शिक्षा प्रदान की जाएगी .


विद्यालय को जनता को समर्पित करते हुए शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि प्रदेश में चयनित 190 अटल उत्कृष्ठ विद्यालय निर्धन परिवार के बच्चों के सर्वांगीण विकास में बेहद सहायक सिद्ध होंगे बच्चों को प्रशिक्षित शिक्षकों की ओर से उच्च गुणवत्तायुक्त शिक्षा मिलेगी जिससे उत्तराखंड में शिक्षा के नए उच्च मापदंड स्थापित होंगे। प्रदेश सरकार, राज्य में सभी को समान अवसर प्रदान करने, सबको शिक्षा अच्छी शिक्षा प्रदान करने, शैक्षणिक कार्यों में उत्कृष्टता लाने शैक्षिक गुणवत्ता बढ़ाने और शिक्षा के उन्नयन के लिए कार्य कर रही है। जिसके परिणाम स्वरूप ही नीति आयोग की सर्वे में राज्य उत्कृष्ठ शिक्षा की दिशा में चैथे पायदान पर पहुँच गया है किंतु सरकार का लक्ष्य इसे पहले पायदान पर पहुचाने का है। उन्होंने कहा कि हम नई शिक्षा नीति का आकलन करते हुए अटल उत्कृष्ट विद्यालयों में कक्षा पाॅच तक मातृ भाषा में पढ़ायेंगे तथा कक्षा 6 से शतप्रतिशत अंग्रेजी माध्यम में पढ़ायेंगे।  नीति आयोग के सर्वे के अनुसार उत्कृष्ठ शिक्षा देने की दिशा में राज्यचैथे पायदान पर है सरकार का लक्ष्य पहले पायदान पर पहुॅचाने का है। उन्होंने कहा कि जो माध्यमिक स्कूल सीबीएसई मानकों को पूरा करते हैं, उनको द्वितीय चरण में अटल उत्कृष्ट विद्यालय के रूप में लेंगे। आने वाले टाइम में कम से कम पाॅच सौ विद्यालय और बनायेंगे। प्रत्येक अटल उत्कृष्ट विद्यालय के साथ साथ पाॅच-पाॅच प्राथमिक विद्यालय भी लिये हैं ताकि उनके बच्चें यहाॅ पड़ने आये। द्वितीय चरण में पाॅच सौ अटल उत्कृष्ट विद्यालयों के साथ साथ 2500 प्राथमिक विद्यालय भी लिये जायेंगे।  

यह भी पढ़ें 👉  बेलबाबा चुंगी पर दबगई, बस चालक को पीटा


उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के बच्चों का भविष्य उज्ज्वल हो, इसके लिए शिक्षकों को अहम भूमिका निभानी होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश को विकास के मानकों के अनुसार आगे बढ़ाने में सभी को अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभानी होगी। कोविड-19 के कारण आॅफ लाईन एडमिशन नहीं हो पाने के कारण आज आॅनलाइन एडमिशन पोर्टल educationportal.uk.gov.in का भी शुभारंभ करने के साथ ही विद्यालय में स्थापित माॅ सरस्वती की प्रतिमा का भी अनावरण किया। इस अवसर पर श्री पाण्डेय ने विद्यालय में पौधारोपण भी किया। उन्होंने कहा कि प्रकृति का संरक्षण एवं संवर्धन करना हम सभी का नैतिक दायित्व है। इसके साथ ही श्री पाण्डेय ने अटल उत्कृष्ट विद्यालयों- शहीद बहादुर सिंह मटियाली राजकीय आदर्श इण्टर काॅलेज पतलोट,जीआईसी भीमताल, जीआईसी ढ़ोकाने, जीआईसी जितुआ पीपल का भी शुभारंभ किया।

यह भी पढ़ें 👉  डीएम गर्ब्याल ने किया लालकुआं तहसील में एफएलसी कार्य का निरीक्षण


इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक संजीव आर्य ने कहा कि अंग्रेजी आज के दौर में बुनियादी आवश्यकता है। ग्रामीण अंचलों में सरकारी विद्यालयों के बच्चों का सामान्य ज्ञान काफी अच्छा होता है परन्तु जब कम्यूनिकेशन स्किल की बात आती है तो कहीं न कहीं ग्रामीण अंचलों के बच्चें पीछे हैं। ग्रामीण अंचलों के बच्चें भी प्राईवेट स्कूलों के बच्चों की तरह कम्यूनिकेशन स्किल एवं अंग्रेजी भाषा में भी आगे रहें। उन्होंने कहा कि जिस सपने के साथ इस योजना की आधार शिला रखी जा रही है। उस लक्ष्य को प्राप्त करने में शिक्षों को अपनी पूरी तन्मयता से मुख्य भूमिका निभानी होगी। ब्लाॅक प्रमुख हरीश बिष्ट ने अपने विद्यार्थी जीवन के अनुभव साझा करते हुए महत्वपूर्ण जानकारियाॅ दी तथा बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

यह भी पढ़ें 👉  किरायदार ने मकान मालिक पर लगाया नाबालिग से छेड़छाड़ व दुष्कर्म का आरोप


कार्यक्र्रम में उप जिलाधिकारी प्रतीक जैन, राज्य अपर परियोजना निदेशक डाॅ.मुकुल सती, अपर निदेशक रघुनाथ आर्य, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, उप निदेशक खेल अखतर अली, प्रधानाचार्या सावित्री दुग्ताल, सभासद तारा राणा, गज़ाला कमाल सहित विश्वकेतु वैद्य, अरविन्द पडियार, आनन्द सिंह बिष्ट, दीपिका बिनवाल, हरीश भट्ट, पीसी साह, रोहित भाटिया, रेखा आर्या, राधा तोलिया, आयूष भण्डारी, सलमान जाफरी आदि उपस्थित थे।

नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments