राज्य सरकार की बहुप्रतीक्षित मानसखण्ड कॉरिडोर एवम कुमाऊॅ को गढ़वाल से संयोजित करने वाले मार्गाे को लेकर मंडलायुक्त दीपक रावत ने ली अहम बैठक

Share this! (ख़बर साझा करें)

हल्द्वानी ( nainilive. com)- राज्य सरकार की बहुप्रतीक्षित मानसखण्ड कॉरिडोर, कुमाऊॅ को गढ़वाल से संयोजित करने वाले मार्गाे, रोपवे निर्माण को लेकर आयुक्त कुमाऊॅ मण्डल दीपक रावत ने कुमाऊॅ के सभी जिलों के जिलाधिकारियों के साथ वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से विस्तार से चर्चा की।

Ad
Ad


वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से जनपद नैनीताल के रामनगर- लालढांग (कंडी मार्ग), काशीपुर-रामनगर-मोहान-बुआखाल मार्ग, रामनगर-बाइपास मार्ग, रामनगर से शंकरपुर (डबल लेन मार्ग), ज्योलीकोट-रानीखेत- पण्डवाखाल-गैरसैण-कर्णप्रयाग मार्ग को डबल लैन, खैरना-अल्मोड़ा, भिक्यासैण-देघाट-बंूगीधार-बछुवाखाल-चौखुटिया मार्ग सिंगल लेन, कैचीधाम बाईपास मार्ग के अलावा तत्ला रामगढ-क्वारब सिंगल रोड को डबल लैन के अलावा रामनगर -गर्जिया -बेतालघाट मार्ग को ठीक करने के निर्देश लोनिवि को दिये ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान केंद्र देहरादून द्वारा Water scarcity and Springshed Management in the Indian Himalayan Region पर विशेषज्ञ व्याख्यान का आयोजन
image description

इसके अलावा गोल्ज्यू मंदिर घोड़ाखाल, नन्दा देवी, गर्जिया, हनुमान मन्दिर आदि स्थानों पर रोपवे का निर्माण किये जाने हेतु प्रस्ताव बनाये जाने के निर्देश दिये। अल्मोड़ा की समीक्षा के दौरान, जागेश्वर, कटारमल, कपिलेश्वर, झंाकर सेम, नन्दा देवी, झूला देवी, सोनी बिन्सर माहदेव आदि स्थानों के सम्पर्क मार्ग के साथ ही रोपवे के प्रस्ताव तैयार करने पर बल दिया।

जनपद पिथौरागढ़ की गंगोलीहाट, मोष्टामानू,थलकेदार को धार्मिक पर्यटन स्थल से जोडे जाने हेतु सड़क निर्माण के अलावा धार्मिक गतिविधियों में सम्मलित करने तथा मुनस्यारी-खलियाटॉप में रोपवे निर्माण किये जाने का प्रस्ताव बनाये जाने को कहा। बागेश्वर जनपद के अर्न्तगत बाजनाथ, बैजनाथ, कोटभ्रामरी, नन्दा देवी, कोटगाडी धार्मिक स्थलों के सम्पर्क मार्गो को सही करने के निर्देश दिये गये।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में मिला अज्ञात व्यक्ति का शव, पुलिस तफ्तीश में जुटी
Ad

इसी प्रकार उधम सिंह नगर के द्रोणसाागर, चैती, कटारिया मन्दिर व गुरूद्वारा नानकमत्ता को धार्मिक स्थलों को जोडे जाने का प्रस्ताव बनाये जाने को कहा। जनपद चम्पावत के अर्न्तगत बाराही धाम देवीधूरा, गुरूद्वारा, रीठासाहीब, पातालरूद्रेश्वर, क्रान्तेश्वर, बालेश्वर, नागनाथ, गोल्ज्यू मन्दिर, गुरू गोरखनाथ मन्दिर मंच, पूर्णागिरीधाम तथा मानेश्वर मन्दिरों को धार्मिक गतिविधियों से जोडे जाने के अलावा पूर्णागिरी- भैरों मन्दिर रोपवे को ठुलीगाड तक बढाये जाने के प्रस्ताव तैयार किये जाने को कहा। उन्होंने ढोलीगॉव से रीठासाहीब मार्ग निर्माण के लिए लोनिवि को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल जिले में बिजली चोरी के 1500 से मामले,114 पर FIR
हिमान आयुर्वेदा क्लिनिक
हिमान आयुर्वेदा क्लिनिक

उन्होंने सभी पर्यटन विकास अधिकारियों को मानस खण्ड का अध्ययन करते हुये अपने-अपने क्षेत्रों के धार्मिक स्थलों को मानस खण्ड कॉरिडोर से जोडे जाने का प्रस्ताव तैयार करने पर बल दिया। वीडियों कॉन्फ्रेसिंग में कुमाऊॅ मण्डल के सभी जिलाधिकारी, पर्यटन विकास अधिकारी तथा लोनिवि के अधिशासी अभियन्ता उपस्थित थे।

Ad
Ad
नैनी लाइव (Naini Live) के साथ सोशल मीडिया में जुड़ कर नवीन ताज़ा समाचारों को प्राप्त करें। समाचार प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़ें -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments